23.5. 2019

ऐटा ऐकुआरिडस मीटीयोर शावर

ऐटा ऐकुआरिडस मीटीयोर शावर (उल्कपिंड की बौछार) हैली के धूमकेतु से धूल के कणों की वजह से होता है। हम इसे हर साल 20 अप्रैल से 20 मई तक आसमान में, देख सकते हैं, वैसे तो इस मीटीयोर शावर का सबसे अच्छा समय 6 से 7 मई की रात में होगा । क्योंकि उस समय शावर अपनी चरम सीमा पर होगा और कम से कम हर घंटे 50 मीटीयोर का उत्पादन करेगा । इसलिए, इसके अवलोकन के लिए उस समय की स्थितियां बिल्कुल आदर्श होंगी। हालांकि, इसे आधी रात के बाद देखना ज़्यादा फ़ायदेमंद होगा क्योंकि उस समय उल्कायें (शूटिंग स्टार्स) सबसे ज़्यादा चमकदार दिखाई देंगे ।

 

प्रतिपुष्टिFacebook